लाकडाउन में जनधन खाते में डाली गई धनराशि,10000 तक ले सकते हैं खाताधारक

 नयी दिल्ली। जन धन योजना एक खास सरकारी स्कीम है। इसकी शुरुआत प्रधानमंत्री ने जीरो बैलेंस पर खाता खुलवाने के लिए की थी, मगर समय के साथ इसमें और भी बहुत से फायदे जन धन खाताधारकों को दिए गए। इस समय कोरोनावायरस के कारण लॉकडाउन चल रहा है। मजदूर और दिहाड़ी या रोजमर्रा के छोटे-मोटे काम से रोजगार चलाने वालों के सामने आर्थिक दिक्कतें आने लगीं। इसी के मद्देनजर सरकार ने जन धन खाताधारकों को आर्थिक मदद देने का ऐलान किया। केंद्र सरकार ने जन धन योजना के तहत खुले 20.4 करोड़ महिलाओं के खाते में बतौर आर्थिक सहायता अगले तीन महीनों तक हर महीने 500 रुपये भेजने शुरू किए हैं। इन महिला खाताधारकों को 3 से 9 अप्रैल तक ये पैसे ट्रांसफर किए जाएंगे। जिन खाताधारकों का आखिरी खाता नंबर 0 या 1 है उन्हें 3 अप्रैल और 2 या 3 अंतिम खाता नंबर वालों 4 अप्रैल को पैसे भेज दिए गये। 4 या 5 अंतिम खाता संख्या वालों को 7 अप्रैल, 6 या 7 अंक वालों को 8 अप्रैल और 8 या 9 संख्या वालों को 9 अप्रैल को पैसे भेजे जाएंगे।

ओवरड्राफ्ट की है सुविधा
बता दें कि अगर आपका जन धन खाता है तो आप ओवरड्राफ्ट के जरिए अपने खाते से 10000 रुपये तक निकाल सकते हैं। मगर ये सुविधा जन धन खाते के कुछ महीनों तक सही से रखरखाव के बाद ही मिलती है। एक नयी रिपोर्ट के अनुसार सरकार जन धन खातों पर ओवरड्राफ्ट की लिमिट बढ़ सकती है। इसके लिए सरकार की तरफ से बैंकों को जल्दी ही आदेश दिया जा सकता है। इसके अलावा ओवरड्राफ्ट की सुविधा अन्य बचत खातों पर भी दी जा सकती है। इससे सरकार का उद्देश्य लॉकडाउन में उन लोगों को फायदा पहुंचाना है, जिन्हें फ्री राशन और सिलेंडर या जन धन खाते में पैसों का फायदा नहीं मिला है।

जन धन योजना के अन्य फायदे :
– मिनिमम बैलेंस की जरूरत नहीं

– 30000 रुपये तक का लाइफ कवर, जो लाभार्थी की मृत्यु पर योगयता शर्ते पूरी होने पर मिलता है

– देश भर में पैसों के ट्रांसफर की सुविधा

– 2 लाख रुपये तक का एक्सीडेंटल इंश्योरेंस कवर

– सरकारी योजनाओं के फायदों का सीधा पैसा खाते में

– बीमा, पेंशन प्रोडक्ट्स खरीदना आसान

– जमा राशि पर ब्याज मिलता है

– ये योजना ग्रामीण और शहरी सभी लोगों के लिए है

कब हुई योजना की शुरुआत

देश के गरीब और पिछड़े इलाकों में रहने वाले लोगों को बैंकिंग सुविधा मुहैया करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पहले कार्यकाल के पहले साल में ही प्रधानमंत्री जनधन योजना की शुरुआत की थी। पीएम मोदी ने इस योजना की घोषणा 15 अगस्त 2014 को की थी, जबकि इसका शुभारंभ 28 अगस्त 2014 को किया गया था। इस योजना के तहत पीएम मोदी का उद्देश्य हर परिवार के लिए एक बैंक खाता खोलने का था। समय बीतने के साथ ही इस योजना में सरकार ने कई लाभ शामिल किये या उनका विस्तार किया। जनधन योजना के अंतर्गत 10 साल से कम उम्र के बच्चे का खाता भी खुलवाया जा सकता है।

INDIA POWER NEWS

Editor in Chief

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित मरकज में शामिल महराजगंज जिले के 21 जमाती कामाख्या एक्सप्रेस से आये गोरखपुर पॉजिटिव पाए गए 6 जमातियों के मोबाइल का सीडीआर निकालकर टॉवर लोकेशन पर निगरानी

Tue Apr 7 , 2020
महराजगंज में कोरोना पॉजिटिव पाए गए छह जमाती गोरखपुर के रास्ते ही अपने घर गए थे। ये लोग गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद बस व अन्य सवारियों से अपने घर गए थे। उनके पॉजिटिव होने की खबर सामने आने के बाद पुलिस-प्रशासन ने उनके यात्रा विवरण की जांच […]

Breaking News

%d bloggers like this: