तस्करो का बुरा दौर शुरू,हरे मटर ने तोड़ा तस्करो के कमर, अब तस्करो ने शुरू किया प्याज की तस्करी क्या है इसके पीछे वजह देखें

महराजगंज।नेपाल से तस्करी कर लाई गई हरे मटर से लगी तस्करों को लाखों रुपए की चपत खराब मटर आने से हुआ नुकसान ठूठीबारी से लेकर निचलौल तक के कई तस्कर बर्बाद।

हरा मटर ने किया तस्करो को बर्बाद, तस्करो के बुरे वक्त शुरू, तस्करो ने बदला व्यवसाय मटर नही अब प्याज की तस्करी कराने में जुटे वजह साफ है नेपाल से आया कई लाख रुपए के हरे मटर निकले खराब अब समस्या यह है कि उक्त मटर वापस भी नही हो पा रहे हैं।

विदित हो कि नेपाल से भारत में कनाडियन मटर, पाकिस्तानी छुहारा,काली मिर्च,कास्मेटिक, इत्यादि SSB एवं सुरक्षा एजेंसियों के आंखों में धूल झोंककर कारोबार करने वाले तस्करों के होश उड़े हुए हैं वजह यह है कि नेपाल से तस्करी कर लाई गई कनाडीयन हरे मटर का खराब निकलना जिसके चलते भारत के बड़े व्यापारियों ने ऐसे खराब मटर को लेने से इंकार कर दिया है । यही वजह है कि ठूठीबारी से लेकर निचलौल तक के बहुत से तस्कर बर्बाद हो गये हैं तस्करों की लाखों रुपए की जमा-पूंजी नेपाल से लाई गई कनाडीयन हरे मटर के रूप में फंस गई है ,कई तस्कर अपने एरिये की महिलाओं को 600/- रुपए से 800/- रुपए प्रति क्विंटल की मजदूरी देकर खराब मटर को अलग कराने में लगे हैं,  जो माल फ्रेश निकल रहा है उसे औने पौने दाम में बेच रहेे हैं ।
विश्वसनीय सूत्रों के मुताबिक नेपाल से लाई गई कनाडीयन हरे मटर की वापसी नेपाल में नहीं हो सकती वहीं दूसरी तरफ निचलौल क्षेत्र के एक तस्कर ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि मैं बर्बाद हो गया हूं, मेरे पास सात लाख रुपए का हरा मटर फंसा हुआ है अगर कोई भी व्यक्ति मुझे तीन ,साढ़े तीन लाख रुपए दे दे तो मैं उसे दे दूंगा ।।

S.P.RAWAT नई दिल्ली

Managing Director/Editor in Chief Cont.9810566149

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महराजगंज: मटर ने दिया धोखा प्याज बना दोस्त, तस्करो ने बदला तस्करी का व्यवसाय

Wed Sep 23 , 2020
मटर ने दिया धोखा प्याज बना दोस्त तस्करो ने बदला तस्करी का व्यवसाय महराजगंज।जनपद के कोतवाली ठूठीबारी में पगडंडियों ,खेतों के रास्ते नेपाल हो रही प्याज की तस्करी ,पुरुष , महिलाएं बच्चे भी शामिल। विगत दिनों सोनौली बार्डर से कईयो दर्जन प्याज से भरे ट्रकों की वापसी की वजह यूपी […]
%d bloggers like this: